सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

तुरिया की सब्जी कैसे बनाये




मेरी प्यारी बहनो एवं मेरे प्यारे भाईओ आइए आज आपको स्वादिष्ट घीया तोरी की सब्जी बनाना सीखा रहे हैं घीया तोरी बनाना बहुत ही आसान है । सबसे पहले बाजार से आधा किलो तोरी लें तुरी ज्यादा लंम्बी भी ना हो ज्यादा छोटी भी ना हो मीडियम साइज की तुरी  हो और बिना बीजों वाली हो ज्यादा पक्की हुई न हो बाजार से अच्छी तरह धो के इस तरह से काट लें ऐसे ब्रीक ब्रीक काट लें  और ऐसे प्याज काट लें और हमने क्या करना है थोड़ा सा घी डाल देना है इन प्याजों के बीच में । तांकियह तड़के के लिए तैयार हो सके ।तो हमने किया करना है सबसे पहले इस को गैस के ऊपर रख देना है आइए अब  गैस को चलाते है । गैस ज्यादा तेज नहीं रखनी थोड़ी काम ही रखनी है । अब इसके ऊपर घी और प्याज रख देने है । और एक कड़छी इसको बनाने के लिए और ऐसे करते जाना है ।

 जब यह प्याज अच्छी तरह पक जाएंगे ।फिर  कयां  करना है  गर्म मसाला लेना है कुछ कटे हुए टमाटर लेने है और आप देख रहे हैं धीरे धीरे प्याज पकने लगे है । उसके बाद  हमने जो कटी हुई तुरीयं है वो इसमें डाल देने है ।और इसके अंदर हमने नमक डालना है  । और अच्छी तरह से इसे हिला देना है निचे गैस कम कर देना है  अब इसके अंदर टमाटर डाल देने है और अच्छी तरह हिला देना है ।  अब इसके अंदर गर्म मसाला डाल देना है । थोड़ी सी मात्रा में डालना है क्यों ज्यादा डालने से स्वाद खराब न हो ।अब इसके अंदर नमक डालना है नमक भी स्वाद अनुसार डालना है ।

अब इसके अंदर हिसाब से पानी डालना है देखिए इस तरह से । जितनी सब्जी हो उतना पानी डालना है ।इसे हल्का सा घुमा देना हैथोड़ी सी हल्दी भी डाल देनी है ।हल्दी बहुत ही पौष्टिक मसाला है बहुत ही  पौष्टिक औषदी है जो के घावों के लिए रामबाण है ।इसको डाल देने से हममे भी वो शक्ति आएगी ।  तो हमने हल्दी भी डालदी गर्म मसाला भी डाल दिया नमक भी डाल दिया प्याज भी डाल दिए टमाटर भी डाल  दिए और पानी देखिए कहां तक डाला जहां तक सब्जी थी ।  अब इसको कुछ देर के लिए ढक दें ।
                   

 अब आपके सामने अतयंत स्वादिष्ट देसी घी की तुरिआं  त्यार है ।और यह बहुत ही स्वादिष्ट  और  स्वस्थ्वार्दाक होती है । बना कर इसे  मजे से खाइये ।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बी. काम की शिक्षा के लिए नोट्स

प्यारे बी. काम के विद्यार्थयों, 

हम आप को निशुल्क बी. काम की शिक्षा नोट्स के माद्यम से देना चाहते है |  हमने आप के लिए पिछले पांच वर्षों में इस शिक्षा को आसान करने के लिए पर्यास किया है | उमीद है के निम्न दिए गए नोट्स को आप पडेगें | धन्यवाद 

लेखांकन के उदेश्य क्या है (Objectives of Accounting in Hindi)

लेखाकंन के बहुत सारे उदेश्य है जीने हम नमन शब्दों में लिख सकते है ।  इन उदेश्यों को जानकारी प्राप्त कर लेने से आप इस क्षेत्र में आगे जा सकते हो |

लागत लेखांकन नोट्स

लागत लेखांकन नोट्स में आपका स्वागत है| यह नोट्स  निन्म लिंक्स में दिए गए है | इनको एक एक करके आप देखे | मुझे आशा है कि इन  के माद्यम से आप लागत लेखांकन को जान लेंगे | कृपया अपने ब्राउज़र बटन का उपयोग करने के लिए वापस जाना है और इस विषय से संबंधित सभी व्याख्यान देखने के लिए आगे जाने के आगे का ब्राउज़र बटन का उपयोग करे ।