सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

साइटमैप

साइटमैप की मदद से आप को यह पता लग जायेगा कि एक साल में किस किस दिन को इस गुरुकुल में अध्यापकों ने पढ़ाया है । अगर आप उस दिन  इस गुरुकुल में नहीं आये थे तो उसका ज्ञान इस पेज की मदद से हो जायेगा ।


2015 



      2014 




        2013 




          2012 



              2010 




                2009 




                  2008 


                  इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

                  शिक्षण क्या है |

                  इंग्लिश में शिक्षण को टीचिंग कहते है । जब एक गुरु अपने विद्यार्थी को ज्ञान देता है तो इसे ही शिक्षण कहा जाता है । प्राचीन कल से ही ऋषि मुनि शिक्षण का कार्य कर रहे है ।

                  १. सबसे पहले वे विद्यार्थों को अपना चरित्र सुधरने की शिक्षा देते है तथा कहते है हे प्रिये विद्यार्थों कभी भी अपना चरित्र मत खत्म करो । एक बार धन खत्म हो जाये तो फिर आ जाये गा , एक भार स्वास्थ्य चला जाये तो फिर आ जाये गा पर चरित्र  का विनाश हो  जाने से तो दुर्गति हि दुर्गति होती है । इस को सभालने के लिए रूप , शब्द, गंध , स्पर्श आदि मथुनों से रोका जाता है ।

                  २. चरित्र की शिक्षा  देने के बाद गुरु विद्यार्थी को अक्षर ज्ञान देता है । उसे संस्कृत , हिंदी , गणित , इतिहास , भूगोल तथा विज्ञानं की शिक्षा दी जाती है

                  ३. उपरोक्त शिक्षा देने के लिए कक्षा एक से दस होती है । दस वर्ष तक गुरु शिष्य को अपने पास रखता है । गुरु उसके हरेक कार्य पर नजर रखता है ।

                  शिक्षण से अद्यापक विद्यार्थी की आंखे खोल देता है । अगर मेरे अद्यापक ने मुझे हिंदी न सिखाई होती तो मै आज  शिक्षण क्या है न लिख सकता । इस लिए शिक्षण के पेशे को सबसे अच्छा माना गया है क…

                  बी. काम की शिक्षा के लिए नोट्स

                  प्यारे बी. काम के विद्यार्थयों, 

                  हम आप को निशुल्क बी. काम की शिक्षा नोट्स के माद्यम से देना चाहते है |  हमने आप के लिए पिछले पांच वर्षों में इस शिक्षा को आसान करने के लिए पर्यास किया है | उमीद है के निम्न दिए गए नोट्स को आप पडेगें | धन्यवाद 

                  लेखांकन के उदेश्य क्या है (Objectives of Accounting in Hindi)

                  लेखाकंन के बहुत सारे उदेश्य है जीने हम नमन शब्दों में लिख सकते है ।  इन उदेश्यों को जानकारी प्राप्त कर लेने से आप इस क्षेत्र में आगे जा सकते हो |