सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

January, 2009 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Branches of Accounting

एकांउटिंग की मुखय रुप से तीन शाखांए है
वितिय एकांउटिंग - इस में वितिये लेखे रखे जाते है । लेन देन से शुरु होकर यह अंतीम खाते बनाने तक खतम होता है ।लागत एकांउटिंग - इस में लागत को निकालना तथा उसे नयनत्रीत करना सिखाया जाता है । प्रबंधकीय एकांउटिंग - इस में एकांउटिंग के डाटा प्रबंधको दवारा प्रयोग किया जाता है तथा विभिन फैसले लिए जाते है ।

Accounting Fraud

आज जब मैं सबह उठ कर गुगल समाचार पर खबरें पढ रहा था तो अचानक मेरी नजर कंपनी सत्यम कंप्यूटर में हुए लेखा घोटाले पर गई । पढ बहुत दुख हुआ । कयोंकि तुछ पासे की खातिर एस गोपालकृष्णन और श्रीनिवास तल्लूरी जैसे चार्टर्ड एकाउंटेंट एकांउटिंग की महान शिक्षा को कंलकीत कर रहे है । होना तो यह चहाए था कि एकांउटिंग की शिक्षा से देश का विकास करते पर उलटे इस शिक्षा उपयोग घोटाला करने में कर रहे है ।
एकांउटिंग धोखे के दो तथय सामने आए है →
सत्यम के संस्थापक अध्यक्ष बी रामलिंगा राजू ने पुलिस हिरासत में पूछताछ के दौरान कबूल किया कि उन्होंने कर्मियों की संख्या को 13,000 से भी अधिक बढ़ा कर दिखा रखी थी। संख्या ज्यादा दिखा कर वे हर महीने 20 करोड़ रुपये की हेराफेरी करते रहे।
राजू, उनके भाई राम राजू और सत्यम के पूर्व मुख्य वित्ताीय अधिकारी वाडलामणि श्रीनिवास दवारा 7,800 करोड़ रुपये के लेखा घोटाले ।
Still enquires and investigation is continue but this is also bad for Indian Economy because, Sensex of Satyam Computer’s Shares had fallen down 78% after reaching this Scam news in Indian Share market .

See AlsoAccounting…

टैली में अंडर गरुप में खाते कयो रखे जाते है ।

मेरे पास बहुत सारी इ-मेल में यह आम सवाल नये टैली सिखने वालो दवारा पुछा जाता है कि टैली में अंडर गरुप में खाते कयो रखे जाते है
इस के उतर यह है कि इस के बीना आप टैली में कोई भी एनटरी पास नहीं कर सकते
टैली 9 की यह विशेषता है कि हम पहिले खातों को उन के उचित गरुप में रखते है ।
आप को मैं गरुप की जानकारी देना चहाता हु .
गरुप हैड अकांउट होते है जिस से हमारा लाभ हानि खाता व चिठा बनता है ।
अब अगर आप को विभिन लेन देन को अलग अलग खातो व खातो को
आगे अलग अलग गरुप में रखना आ जाए तो यह मानिए कि आप को टैली समझ आने लगी है ।

लेखांकण में सचाई व झुठ

लेखांकण में सचाई व झुठ में मामुली सा फरक होता है पर लेखांकण में सचाई तो पानी की तरह शुद होती है और यही एक अचछा अकांउटैंट पैदा कर सकती है । लेखांकण में झुठ को चलाना मानो अपने

accounting profession को धोखा देना है
तथा इस धोखे से आप अपना लाभ उठा लेते हो पर कभी यह आप ने सोचा कि इस से देश को तथा जहां आप काम करते है उस संसथान को इस से कितनी हानि होती है ।तथा यह सारी हानी हमें ही दबारा झेलनी पडती है जिस से देश का विकास रुक जाता है ।अगर आप देश के हित में हो तो कभी भी ऐसा काम न करो जिससे तमें पछताना पढे ।

दबारा खरीद का हुकम देने का लैवल

हरेक वयापारी की यह इचछा होती है कि जब भी उस की फैकटरी में माल खतम हो जाता है उस समय खरीदने के लिए हुकम दिया जाना चाहिए । पर समसया यह है कि इस बात का पता कैसे लेगे गा कि माल खतम होने वाला है कयोंकि
सटोक में हजारों तरहों का माल होता है हर समय हर कोई इस बात को धयान में नहीं रखता कि माल खतम होने वाला है इस लिए Tally 9 makes automatic systemकि आप को आटोमैटिक पता लग जाएगा कि खरीद का हुकंम कभ देना चाहिए । इस के लिए आप को टैली 9 की फिचर फ 11 को दबा कर ईंनटरी फिचर में purchase order processing = yes and accept it करना है ।इस के लाभअधिक माल खरीदने से होने वाला अधिक खरच बचेगा ।माल न होने के कारण होने वाली हानि न होगी ।यह भी पड़ेभारत वासी एकाँउटिंग में सफल

भारत वासी एकाँउटिंग में सफल

हां यह सच है कि भारतिय अब एकांउटिंग में पीछे नहीं है । कियोंकि एंकाउटिंग के सभी विषयो को अब हिंदी भाषा में बदला जा चुका है । टैली 9 भी हिंदी जानने वालो के लिए आसान हो गयी है । कियुंकि हम इसे हिंदी में चला सकते है इस का तरीका मैं यहां बता रहा हुँ उमीद है आप को पंसद आएगा
1. सबसे पहिले आपको टैली software install करते समय , सैटिंग में हिंदी चुनना होगा

2. उसके बाद आप टैली को हिंदी में चला सकते है।ऐसा करने से हम अपनी सारी रिपोरटे टैली में हिंदी में प्रापत करे गे मतलब इसके बाद लाभ हानि खाता तथा वितिय विवरण भी हिंदी में होगा ।

बाजार में अब सभी एकांउटिंग की किताबे हिंदी में उपलभद है ।
तथा आप सभी एकाँउटिंग की उचसतरीय शिक्षा हिंदी में प्रापत कर सकते है ।
भारत की बहुत सारी मानता प्रापत विशवविधले हिंदी में एकांउटिंग की उचसतरीय शिक्षा देने लगे है ।
उमीद की जाती है कि एकाँउटिंग में भारत का भविषय उजवल होगा ।