सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

हिंदी में एकाऊन्टिंग शिक्षण की समसियाए

आदरणीय विनोद जी,
मैंने यू-ट्यूब पर आपके वीडियो देखे। हिन्दी में बनाया गया विडियो मुझे बहुत अच्छा लगा। एकाऊन्ट का काम अधिकतर अंग्रेज़ी में ही होता है पर मुझे हिन्दी में काम करना अच्छा लगता है। हिन्दी में आपकी साईट भी हो और विस्तारपूर्वक इसमें शिक्षण हो ऐसी मेरी हार्दिक इच्छा है। आशा करता हूँ आप ऐसे ही हिन्दी में और भी विडियो बनाते रहेंगे।
मैं मूलतः साईंस का विद्यार्थी रहा हूँ। एकाऊन्टिंग के बारे में मुझे कुछ भी पता नहीं है। मेरे जैसे बिल्कुल अनजान लोगों को एकाऊन्टिंग सीखने और टैली में काम करने के बारे में आप सहायक सिद्ध हों।

वीरेश काश्यप

प्रीय वीरेश काश्यप

नमसते

मुझे यह जानकर खुशी हुई कि आप को मेरे दुवारा दिया गया एकाऊन्टिग ज्ञान अच्छा लगा । ओर यह जान कर और भी खुशी हुई कि आप को हिंदी भाषा से भी प्रेम है ।

मुझे भी हिंदी में काम करना उतना ही प्रीय लगता है जितना आप को । पर हिंदी भाषा में एकाऊन्टिग का शिक्षण करते समय कुछ समसियाए आती है वह मै आप को बताना चहाता हु

पहली समसिया तो यही है कि जिस के लिए यह काम कर रहा हु वह बाद में अंगरेजी वयापारीक परिवेश में जाना होता है जिस में विभिन Multinational companies में एकांउट बनाने होते है जिस में accounting terms in English आना एक अनिवाय शरत होती है । एक अच्छे शिक्षक होने के नाते यह मेरा पहला दायतव है कि विदारथियो को उसी भाषा में सहियोग दे जिन से उने आगे कपंनीयों में रोजगार मिल सके ।
जो भी मैने यू-ट्यूब में विडीयो बनाए तथा बनाने का काम किया वह एक Free voluntary service of education है कियोकि you tube जो भी advertising earning करती है उस में भारतिय Video maker हिसेदार नही बन सकते । but you tube shares earning with USA and other European countries video makers जिस के कारण आथिक सहियोग नही मिल पाता । पर फिर भी मैं निराश नहीं हु

तथा इसी कारण आप ने मेरे कइ विडियो यू-ट्यूब में देखे होगें

3. अगर मैं हिंदी में भी एकाऊन्टिग विषय पर लिखु तो भी this is just social work because , there is no source of earning for any writing in Hindi language because , Every web publisher’s main earning source is advertising or sponsorship links but these sponsorship earning can not get through Hindi writing . I try to make understand to you that you saw cricket match on T.V. but when you see the cricket match, you will also see different companies ads which is source of earning of player but in there are few advertisers who are interested to ads on Hindi blog or website. So, economic motivation is at zero level. But this is not in English website because, I have sponsorship of International companies, but my main aim is still to provide education with simplicity.

बाकि यह है कि अगर आप मेरा काम पसंद करते हो तथा आप से इस माधयम से good relation बनते है तो मैं बविषय में भी हिन्दी में और भी विडियो बनाता रहुगां ।


In last, there is no effect of language for learning any subject, if the teacher and his way of instruction is so easy and full concentrate on students and main aim is to educate .



धनवाद सहित

विनोद कुमार

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शिक्षण क्या है |

इंग्लिश में शिक्षण को टीचिंग कहते है । जब एक गुरु अपने विद्यार्थी को ज्ञान देता है तो इसे ही शिक्षण कहा जाता है । प्राचीन कल से ही ऋषि मुनि शिक्षण का कार्य कर रहे है ।

१. सबसे पहले वे विद्यार्थों को अपना चरित्र सुधरने की शिक्षा देते है तथा कहते है हे प्रिये विद्यार्थों कभी भी अपना चरित्र मत खत्म करो । एक बार धन खत्म हो जाये तो फिर आ जाये गा , एक भार स्वास्थ्य चला जाये तो फिर आ जाये गा पर चरित्र  का विनाश हो  जाने से तो दुर्गति हि दुर्गति होती है । इस को सभालने के लिए रूप , शब्द, गंध , स्पर्श आदि मथुनों से रोका जाता है ।

२. चरित्र की शिक्षा  देने के बाद गुरु विद्यार्थी को अक्षर ज्ञान देता है । उसे संस्कृत , हिंदी , गणित , इतिहास , भूगोल तथा विज्ञानं की शिक्षा दी जाती है

३. उपरोक्त शिक्षा देने के लिए कक्षा एक से दस होती है । दस वर्ष तक गुरु शिष्य को अपने पास रखता है । गुरु उसके हरेक कार्य पर नजर रखता है ।

शिक्षण से अद्यापक विद्यार्थी की आंखे खोल देता है । अगर मेरे अद्यापक ने मुझे हिंदी न सिखाई होती तो मै आज  शिक्षण क्या है न लिख सकता । इस लिए शिक्षण के पेशे को सबसे अच्छा माना गया है क…

बी. काम की शिक्षा के लिए नोट्स

प्यारे बी. काम के विद्यार्थयों, 

हम आप को निशुल्क बी. काम की शिक्षा नोट्स के माद्यम से देना चाहते है |  हमने आप के लिए पिछले पांच वर्षों में इस शिक्षा को आसान करने के लिए पर्यास किया है | उमीद है के निम्न दिए गए नोट्स को आप पडेगें | धन्यवाद 

लेखांकन के उदेश्य क्या है (Objectives of Accounting in Hindi)

लेखाकंन के बहुत सारे उदेश्य है जीने हम नमन शब्दों में लिख सकते है ।  इन उदेश्यों को जानकारी प्राप्त कर लेने से आप इस क्षेत्र में आगे जा सकते हो |